कंगना रनौत थप्पड़ कांड.. लोकतंत्र में विरोध का यह तरीका जायज है क्या ..?

कँगना रनौत के साथ हुई हाथापाई को लोग दो नज़रिया दे रहे है .. एक जो वास्तव के हिंसा को गलत मानते है जो कि शिक्षित परिवेश से आते है ,और दुसरे जो राजनीतिक यूनिवर्सिटीओ में वाट्सएप तथा सोशल मीडिया से phd के छात्र है जिनके हिसाब से ये एक विरोध दर्ज कराने का तरीका […]