Loading...

Stvnews Online

#क्राइम न्यूज़ #देश-दुनिया #पॉलिटिक्स #मनोरंजन / लाइफस्टाइल #राजस्थान #राज्य

रूस यात्रा में प्रधानमंत्री को मिले सम्मान से चीन को टेंशन, आज की खास ख़बरें….

रूस यात्रा में प्रधानमंत्री को मिले सम्मान से चीन को टेंशन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया रूस यात्रा ने न केवल भारत-रूस संबंधों को नई ऊंचाईयों पर पहुंचाया, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय मंच पर भी बड़ी चर्चा को जन्म दिया। पांच साल बाद रूस की धरती पर कदम रखते ही मोदी का स्वागत गर्मजोशी और शाही तरीके से हुआ, जो दोनों देशों के बीच गहरे संबंधों को दर्शाता है।यह यात्रा खास इसलिए भी रही क्योंकि यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद यह मोदी की पहली मॉस्को यात्रा थी, जिस पर अमेरिका समेत पश्चिमी देशों की खास नजर थी।

सुप्रीम कोर्ट में नीट पेपर की सुनवाई टली

नीट परीक्षा को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में होने वाली सुनवाई टाल दी गई है. अब अगली सुनवाई 18 जुलाई को होगी. बता दें कि इस संबंध में 8 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की बेंच ने सुनवाई की थी.आज इस मामले में अगली सुनवाई होने वाली थी लेकिन आज सुनवाई टाल दी गई. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई, सरकार और एनटीए की ओर से अपने जवाब दाखिल कर दिए गए हैं.

नीट पेपर लीक मामले में दो विधायकों पर कार्यवाही के आदेश

नीट पेपर लीक मामले में कोर्ट की ओर से बड़ा एक्शन लिया गया है। पेपर लीक और भर्ती घोटाला मामले में विशेष न्यायाधीश गैंगस्टर एक्ट पुष्कर उपाध्याय ने यूपी के विधायक बेदी राम और निषाद पार्टी के विधायक विपुल दुबे समेत कई अन्य आरोपियों के विरुद्ध गैर जमानती वारंट जारी करने का आदेश पारित किया है।इस मामले में विधायक समेत 19 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चल रहा है।

संयुक्त किसान मोर्चा एमएसपी की कानूनी ग्रांटी पर फिर करेगा आंदोलन

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने घोषणा की है कि वे अपनी लंबित मांगों के लिए फिर से आंदोलन शुरू करेंगे। उनकी प्रमुख मांगों में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी और किसान कर्ज माफी शामिल हैं।संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने बृहस्पतिवार को घोषणा की कि वह न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी और कृषि ऋण माफी सहित अन्य लंबित मांगों को लेकर आंदोलन फिर से शुरू करेगा।

इंग्लैंड में भागवद गीता की ली शपथ

भागवदगीता के प्रति प्रेम सिर्फ भारत तक ही नहीं बल्कि, विदेशों में भी देखने को मिलती है। कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला इंग्लैंड में। यहां पर भारतीय मूल की शिवानी राजा ने भगवतगीता की शपथ ली है।राजा 37 वर्षों में लीसेस्टर ईस्ट सीट जीतने वाली पहली कंजर्वेटिव सांसद बन गई हैं। यूके संसद में 10 जुलाई को शपथ ग्रहण समारोह था। जहां शिवानी राजा ने पवित्र भगवद गीता के प्रति अपनी निष्ठा की शपथ ली।

दंगो की पुनरावृत्ति न हो प्रशासन हुआ अलर्ट

हरियाणा के नूंह शहर में एक बार फिर से ब्रजमंडल यात्रा (Nuh Brajmandal Yatra 2024) निकलेगी. 22 जुलाई को यह शोभायात्रा निकाली जाएगी और इसी के चलते अब प्रशासन अलर्ट हो गया है. इस बार जिला प्रशासन (Nuh Admin) के अधिकारी जलाभिषेक यात्रा को शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न कराने के लिए पूरी तैयारी कर चुके हैं.लगातार बैठकों का दौर चल रहा है. पुलिस बल की भी भारी संख्या में तैनाती की जाएगी.

क्रिकेट टीम पाकिस्तान नही जाएगी चैंपियन ट्रॉफी खेलने

अगले साल पाकिस्तान में होने वाले आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2025 में टीम इंडिया हिस्सा लेगी या नहीं, इसपर सवालिया निशान लगा हुआ था। सोशल मीडिया पर इसको लेकर काफी सारी चर्चाएं भी हो रही थी।पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड भारत को लेकर कई सारे दावे भी कर रहा था।

हालांकि अब बीसीसीआई ने अपना फैसला सुनाकर तमाम अटकलों पर विराम लगा दिया है। खबर आ रही है कि भारतीय टीम चैंपियंस ट्रॉफी 2025 (Champions Trophy 2025) खेलने के लिए पड़ोसी देश यानि पाकिस्तान नहीं जाएगी। इसी के साथ टूर्नामेंट में उनके हिस्सा लेने पर भी संशय बन गया है।

मनीष सिसोदिया का केस सुन रहे जज ने खुद को किया अलग

दिल्ली शराब घोटाला केस में मनीष सिसोदिया तिहाड़ जेल में बंद हैं. वह जमानत पर जेल से बाहर आने के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं. सुप्रीम कोर्ट में आज यानी गुरुवार को उनकी याचिका पर सुनवाई होनी थी.मगर सुनवाई से ठीक पहले सुप्रीम कोर्ट के जज संजय कुमार ने खुद को मामले से अलग कर लिया. अब मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका पर सुनवाई टल गई है. सुप्रीम कोर्ट ने अब अगले सप्ताह नई बेंच के सामने मामले को लिस्ट करने का आदेश दिया है. दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया फरवरी 2023 से जेल में बंद हैं.

सूरजपाल उर्फ भोले बाबा के खुलने लगे राज…

हाथरस की घटना के बाद सूरजपाल जाटव उर्फ भोले बाबा का नाम पूरे देश में चर्चा का विषय बन गया है. सूरजपाल एक लग्जरी और अय्याशी भरी जिंदगी जीते हैं. अलवर के खेड़ली के पास स्थित सहजपुरा गांव में सूरजपाल का आश्रम है, जिसे बाबा के अनुयायियों ने करीब 12 साल पहले डेढ़ बीघा जमीन पर बनवाया था.सूरजपाल महिलाओं को आदेश देता था. उसके आस-पास हमेशा कुंवारी लड़कियां रहती थीं, जो उसे खाना खिलाने, कपड़े पहनाने और अन्य सभी कार्य करती थीं. जब सूरजपाल अलवर आते थे, तो उनसे मिलने के लिए नेता, अभिनेता, व्यापारी और अन्य वीआईपी लोग पहुंचते थे.

1

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!